Monday, June 27, 2022
Home अंतर्राष्ट्रीय वार्ता विफल होने का अर्थ तीसरा विश्व युद्ध होगा : जेलेंस्की

वार्ता विफल होने का अर्थ तीसरा विश्व युद्ध होगा : जेलेंस्की

कीव। जैसे ही यूक्रेन ने मारियुपोल को आत्मसमर्पण करने की मॉस्को की चेतावनी के बीच रूस के सामने झुकने से इंकार किया, तो यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने एक बार फिर दुनिया को याद दिलाया कि अगर बातचीत नहीं हुई, तो यह एक वैश्विक आपदा होगी। उनके डिप्टी ने सोमवार (मास्को समय) सुबह 5 बजे तक मारियुपोल शहर को छोडऩे की रूसी मांग को खारिज करते हुए कहा कि किसी भी आत्मसमर्पण का कोई सवाल ही नहीं है।

रूसी रक्षा मंत्रालय ने शहर के आत्मसमर्पण के बदले मानवीय गलियारे खोलने की पेशकश की थी। इससे पहले यूक्रेन के राष्ट्रपति ने आरोप लगाया कि रूस ने मारियुपोल में युद्ध अपराध किए। जेलेंस्की ने कहा है कि उनका मानना है कि रूस के आक्रमण के अंत में बातचीत करने में विफलता का अर्थ तीसरा विश्व युद्ध होगा। जेलेंस्की ने कहा कि वह रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से सीधे बातचीत के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि उनका मानना है कि बातचीत ही लड़ाई को समाप्त करने का एकमात्र तरीका है। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि हमें बातचीत की संभावना के लिए किसी भी प्रारूप, किसी भी अवसर का उपयोग करना होगा।  हालांकि, जेलेंस्की ने कहा कि वह किसी भी समझौते को खारिज करेंगे, जिसमें यूक्रेन को रूसी-प्रायोजित अलगाववादी क्षेत्रों को स्वतंत्र के रूप में मान्यता देने की आवश्यकता होगी।

यूक्रेन के राष्ट्रपति ने एक बार फिर कहा कि उनका मानना है कि अगर उनका देश नाटो का सदस्य होता, तो युद्ध शुरू नहीं होता। अगर नाटो के सदस्य हमें गठबंधन में शामिल करने के लिए तैयार हैं, तो इसे तुरंत करें, क्योंकि लोग रोज मर रहे हैं। मारियुपोल के मेयर के सलाहकार प्योत्र एंड्रीशेंको का कहना है कि मास्को के मानवीय वादों पर भरोसा नहीं किया जा सकता है, और शहर खुद का बचाव करना बंद नहीं करेगा। एंड्रीशेंको ने कहा हम आखिर तक लड़ेंगे। एंड्रीशेंको ने हाल के दिनों में अन्य मारियुपोल अधिकारियों द्वारा किए गए अपुष्ट दावों को दोहराया कि रूसी सेनाएं अपने कुछ निवासियों को रूस में जबरन निकाल रही हैं। उन्होंने कहा कि इससे पहले शहर के एक विद्यालय पर हमला किया गया था, जहां करीब 400 लोग शरण लिए हुए थे। रविवार को यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोडिमर जेलेंस्की ने वैश्विक समर्थन रैली के प्रयासों के तहत वीडियो लिंक द्वारा इजराइल की संसद से बात की। उन्होंने इस्राइली सांसदों से कहा, हम जीना चाहते हैं। हमारे पड़ोसी हमें मारना चाहते हैं।

RELATED ARTICLES

PM मोदी जी-7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए जर्मनी पहुंचे

म्यूनिख।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जर्मनी पहुंच गये हैं। प्रधानमंत्री 26 से 28 जून तक जर्मनी और यूएई...

श्रीलंका जुलाई में जाफना से भारत के लिए उड़ान फिर करेगा शुरू

कोलंबो।श्रीलंका अगले महीने से उत्तरी जाफना प्रायद्वीप से भारत के लिए उड़ानें फिर शुरू करने जा रहा है।श्रीलंका के पर्यटन विकास प्राधिकरण का लक्ष्य...

ताइवान में आज 6.0 तीव्रता का आया भूकंप

ताइपे।ताइवान में सोमवार सुबह भूकंप के झटके महसूस किये गए।इस दौरान जान माल के किसी तरह के नुकसान की तत्काल कोई खबर नहीं है।चीन...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

स्वामी अवधेशानंद की जीवन पर आधारित पुस्तक का लोकसभा अध्यक्ष ने किया विमोचन

हरिद्वार।लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, सांसद डॉ0 रमेश पोखरियाल ’निशंक’, डॉ0 महेश शर्मा, उत्तराखण्ड के कैबिनेट मंत्री श्री प्रेमचन्द्र अग्रवाल, भाजपा...

CM धामी ने सुना पीएम मोदी का मन की बात कार्यक्रम

देहरादून।मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के मन की बात कार्यक्रम को सुना। मन की बात...

CM धामी ने सुनी जनता की समस्याएं, अधिकारियों को दिये ये निर्देश

देहरादून।मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक सदन में प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आये लोगों की समस्याओं को...

CM धामी रुड़की में राज्यसभा सांसद कल्पना सैनी के सम्मान समारोह कार्यक्रम में हुए शामिल

रुड़की।मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को रुड़की स्थित नेहरु स्टेडियम में आयोजित सम्मान समारोह कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इस दौरान मुख्यमंत्री श्री पुष्कर...

Recent Comments